Tuesday, October 19, 2021
Home आपके शहर की ख़बरें बिहार चुनाव 2020 : पहले चरण के लिए चुनाव प्रचार समाप्त, 28...

बिहार चुनाव 2020 : पहले चरण के लिए चुनाव प्रचार समाप्त, 28 अक्टूबर को, 2 करोड़ से ज्यादा मतदाता करेंगे वोट, इन मुद्दों पर

बिहार विधानसभा के लिए पहले चरण की 71 सीटों पर 2 करोड़ 14 लाख छह हजार 96 मतदाता करेंगे। पहले चरण की 71 सीटों में से 42 सीटों पर आरजेडी के प्रत्याशी मैदान में है, जबकि प्रमुख दलों में 41 सीटों पर जेडी (यू) के उम्मीदवार, बीजेपी (29), कांग्रेस (21) और एलजेपी के उम्मीदवार 41 सीटों (जहां जेडीयू है) पर मैदान में हैं। इन 71 सीटों ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सुरक्षा कड़ी कर दी गई है।

बिहार में पहले चरण में 28 अक्टूबर को 71 विधानसभा सीटों पर वोटिंग होगी। ये सीटें हैं कहलगांव, सुल्तानगंज, अमरपुर, धौरैया, बांका, कटोरिया, बेलहर, तारापुर, मुंगेर, जमालपुर, सूर्यगढ़ा, लखीसराय, शेखपुरा, बरबीघा, मोकमा, बाढ़, मसौढ़ी, पालीगंज, बिक्रम, संदेश, बड़हरा, आरा, अगिआँव, तरारी, जगदीशपुर, शाहपुर, ब्रहमपुर, बक्सर, डुमरांव, राजपुर, रामगढ़, मोहनियां, भभुआ, चैनपुर, चेनारी, सासाराम, करगहर, दिनारा, नोखा, डिहरी, काराकट, अरवल, कुर्था, जहानाबाद, घोसी, मखदुमपुर, गोह, ओबरा, नवीनगर, कुटुम्बा, औरंगाबाद, रफीगंज, गुरूआ, शेरघाटी, इमामगंज, बाराचट्टी, बोध गया, गया टाउन, टिकारी, बेलागंज, अतरी, वजीरगंज, रजौली हिसुआ, नवादा, गोबिंदपुर, वारसलीगंज, सिकंदरा, जमुई, झाझा और चकाई सीट, इन पर पहले चरण के तहत 28 अक्टूबर को मतदान होगा।

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए पहले चरण के प्रचार में एनडीए के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) तीन रैलियों को संबोधित करते हुए मतदाताओं से मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को वापस सत्ता में लाने का आग्रह किया। वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने महागठबंधन के लिए दो रैलियां कर तेजस्वी यादव को सीएम बनाने के लिए वोट मांगे। एनडीए के लिए यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और पार्टी अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा जैसे अन्य भाजपा स्टार प्रचारकों ने रैली की और अयोध्या में राम मंदिर का बार-बार हवाला दिया, केंद्र में सरकार की उपलब्धियों पर ट्रिपल तलाक के खिलाफ कानून, धारा 370 को खत्म करने जैसे मुद्दे उठाए।

वहीं तेजस्वी यादव, राहुल गांधी सहित महागठबंधन के अन्य नेताओं ने रैली कर कृषि बिल, जीएसटी, कोरोना काल में मजदूरों की पीड़ा को मुद्दा बनाया। राज्य में अब तक प्रचार करने वाले अन्य प्रमुख नेताओं में केंद्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, स्मृति ईरानी, उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस, पूर्व केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी और सैयद शाहनवाज हुसैन, कांग्रेस नेता राज बब्बर, शत्रुघ्न सिन्हा, बसपा सुप्रीमो मायावती और AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी शामिल हैं। सीपीआई के उभरते सितारे कन्हैया कुमार भी इस अभियान में शामिल हुए, उन्होंने वामदलों के लिए प्रचार किया।

पहले चरण की 71 सीटों पर प्रचार का दौर सोमवार की शाम 5 बजे खत्म हो गया। पहले चरण की 71 सीटों पर अब 28 अक्टूबर को मतदान किया जाएगा। कोरोना काल के बीच बिहार में चुनाव होने जा रहा है, जिससे इस पर पूरे देश की निगाहें टिकी हुई है। पहले चरण में कुल मिलाकर 1066 प्रत्याशी चुनाव मैदान में हैं, जिनमें से 114 महिलाएं हैं। इस पहले चरण में मौजूदा नीतीश सरकार के आठ मंत्रियों की किस्मत भी दांव पर लगी है, जिनके भाग्य का फैसला भी 10 नवंबर को होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बिहार में पंचायत चुनाव की बजी बिगुल, 10 चरण में चुनाव

निर्वाचन आयोग की घोषणा के साथ राज्य में पंचायत चुनाव 2021 की अधिसूचना लागू हो गयी है। 10 चरणों में पंचायत चुनाव...

मुलेठी / यष्टीमधु अनेक रोगों की श्रेष्ठ औषधि

दौरे पड़ना (फिट आना)- सवेरे एवं सायंकाल 1 छोटी  चम्मच मुलेठी चूर्ण आधा गिलास कुम्हडे के रस के साथ...

Recent Comments