Monday, October 18, 2021
Home Uncategorized जयनगर से नेपाल के कुर्था के बीच ट्रेन के लिए स्पीड ट्रायल...

जयनगर से नेपाल के कुर्था के बीच ट्रेन के लिए स्पीड ट्रायल सफल

भारत एवं नेपाल के बीच रेल संपर्क सेवा का लाभ। जयनगर से नेपाल के कुर्था के बीच ट्रेन के लिए स्पीड ट्रायल सफल रहा है। भारत और नेपाल के बीच रेलवे सेवा शुरू होने का भारत नेपाल के पत्रकारों के संगठन मीडिया फॉर बार्डर हारमोनी ने स्वागत किया है । संगठन के संरक्षक मुजफ्फरपुर के सांसद अजय निषाद, नेपाल के सांसद प्रदीप यादव, संगठन के नेपाल अध्यक्ष वरिष्ठ पत्रकार अनिल तिवारी, वरिष्ठ फोटो जर्नलिस्ट उपाध्यक्ष राम सराफ, महासचिव वरीय पत्रकार रितेश त्रिपाठी मुजफ्फरपुर के वरीय पत्रकार अमरेंद्र तिवारी ने इसका स्वागत करते हुए कहा कि इस रेल सेवा को लेकर संगठन वर्षों से पहल कर रहा था। रेल सेवा शुरू होने से बेटी रोटी संबंध मजबूत होगा। सांसद अजय निषाद ने नई सेवा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, नेपाल के प्रधानमंत्री शेर बहादुर देउबा सहित भारत और नेपाल रेल विभाग के तमाम अधिकारियों को बधाई दी। उम्मीद की कि आने वाले दिनों में भारत-नेपाल संबंधों और बेहतर प्रगाढ़ होंगे। सांसद‌ निषाद ने कहा कि रक्सौल से काठमांडू के बीच प्रस्तावित रेल परियोजना के काम में तेजी आवे इसके लिए भी वह अपने स्तर से पहल करेंगे । आने वाले दिनों में रक्सौल से पटना, गोरखपुर, लखनऊ, दिल्ली के लिए राजधानी एक्सप्रेस के तर्ज पर वतानुकूलित ट्रेन चले यह भी पहल होगी। सांसद निषाद ने कहा कि रेल सेवा परिचालन से भारत और नेपाल के बीच सामाजिक, आर्थिक, पर्यटन व धार्मिक संबंध मजबूत होंगे।
110 किमी प्रतिघंटा की गति से सफलतापूर्वक स्पीड ट्रायल
समस्तीपुर मंडल के जयनगर और नेपाल के कुर्था के बीच 34.50 किलोमीटर लंबे नव-आमान परिवर्तित रेलखंड पर रविवार को लोकोमोटिव से 110 किमी प्रतिघंटा की गति से सफलतापूर्वक स्पीड ट्रायल किया गया। इस दौरान इरकान और नेपाल रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे। स्पीड ट्रायल के सफल होने के बाद अब रेल संरक्षा आयुक्त के स्तर पर निरीक्षण किया जाएगा। रेल संरक्षा आयुक्त की अनुमति मिलने तथा भारत और नेपाल के बीच सहमति के बाद ट्रेनों का परिचालन प्रारंभ किया जा सकता है। पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी राजेश कुमार ने बताया कि भारतीय रेल नेपाल को पूर्ण सहयोग दे रही है।
परियोजना के पहले चरण में इसे जाएगा जोड़ा
भारत-नेपाल मैत्री रेल परियोजना के तहत प्रथम चरण में अमान परिवर्तित 34.50 किलोमीटर लंबा जयनगर-कुर्था (नेपाल) रेलखंड 619 करोड़ की अनुमानित लागत वाली जयनगर- बिजलपुरा-बर्दीबास (69.08 किमी) रेल परियोजना का एक भाग है। परियोजना के पहले चरण में बिहार के मधुबनी जिले के जयनगर स्टेशन को नेपाल के कुर्था से जोड़ा जाएगा। भविष्य में इसका विस्तार कुर्था से 18 किलोमीटर आगे बीजलपुरा तक किया जाएगा।
मजबूत होगा बेटी रोटी ‌संबंध
प्रधानमंत्री की यह महत्वाकांक्षी यह परियोजना दोनों देशों के लिए मील का पत्थर साबित होगी। गौरतलब हो कि राजग सरकार के पहले कार्यकाल के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की खास पहल पर रेलवे ने इस परियोजना को मंजूरी दी गई थी। परियोजना पर युद्धस्तर पर काम करते हुए रेलवे प्रधानमंत्री के सपने को साकार करने के काफी करीब पहुंच गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

बिहार में पंचायत चुनाव की बजी बिगुल, 10 चरण में चुनाव

निर्वाचन आयोग की घोषणा के साथ राज्य में पंचायत चुनाव 2021 की अधिसूचना लागू हो गयी है। 10 चरणों में पंचायत चुनाव...

मुलेठी / यष्टीमधु अनेक रोगों की श्रेष्ठ औषधि

दौरे पड़ना (फिट आना)- सवेरे एवं सायंकाल 1 छोटी  चम्मच मुलेठी चूर्ण आधा गिलास कुम्हडे के रस के साथ...

Recent Comments